Wednesday, 30 October 2019

11 नवंबर को ही इंदौर आ जाएंगे टीम इंडिया के सितारे, सभी टिकट ऑनलाइन बेचने की तैयारी

भारत और बांग्लादेश के बीच 14 से 18 नवंबर के बीच होलकर स्टेडयिम में होने वाले टेस्ट मैच के लिए 11 नवंबर को ही दोनों टीमों के सितारे इंदौर आ जाएंगे। 10 नवंबर को नागपुर में ट्वेंटी-20 मुकाबला खेलने के बाद टीमें 11 को दोपहर तक यहां आ जाएंगी। एमपीसीए इस बार मैच के सभी टिकटों की बिक्री ऑनलाइन करने की तैयार कर रहा है। खिलाडिय़ों के ठहरने का इंतजाम मैरिएट होटल में किया गया है। दो मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट इंदौर में होगा, जबकि दूसरा कोलकाता में खेला जाएगा।

टीम इंडिया के सामने बांग्लादेश की चुनौती कुछ कमजोर होने के चलते इस बार एमपीसीए को चिंता है कि स्टेडियम में दर्शकों की संख्या कम रह सकती है। स्टेडियम खाली न रह जाए, इसे देखते हुए मैच में अधिक से अधिक दर्शकों को लाने के लिए आकर्षक योजना बनाई जा रही है। अक्टूबर 2016 में पहली बार जब इंदौर में टेस्ट मैच खेला गया था तब एमपीसीए ने स्टेडियम में आने वोल हर दर्शक को मुफ्त में टोपी गिफ्ट की थी। इस बार भी इस तरही की योजना बनाई जा रही है।


क्रिकेट प्रेमियों की परेशानी होगी खत्म

इंदौर में मैच के दौरान दर्शकों में काफी रोमांच रहता है। प्रदेश में अधिकांश अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच इंदौर में ही होते हैं, इसलिए प्रदेश के अन्य शहरों से भी क्रिकेट प्रेमी यहां आते हैं। काउंटर (ऑफ लाइन) टिकट बिक्री के दौरान क्रिकेट प्रेमियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। टिकट हासिल करने के लिए वे रात-रात भर सडक़ों पर लाइन लगाकर खड़े रहते हैं। दर्शकों की इस असुविधा को खत्म करने के लिए एमपीसीए इस बार मैच के सभी टिकटों की बिक्री ऑनलाइन करने की तैयार में है। पहली बार स्टूडेंट के लिए कम कीमत वाले टिकट भी ऑनलाइन बुक किए जाएंगे। इसके लिए पेटीएम के साथ मिलकर सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है। हालांकि इस पर फिलहाल अंतिम फैसला नहीं लिया गया है।

एमपीसीए ने निकाले टेंडर

मैच के दौरान व्यवस्था संभालने के लिए एमपीसीए निजी कंपनियों को काम सौंपती है। पारदर्शिता के चलेत आगामी मैच के लिए भी 6 अलग-अलग कार्यों के लिए टेंडर निकाले गए हैं। सफाई व्यवस्था, दर्शकों, खिलाडिय़ों, वीवीआइपी सहित अन्य लोगों के कैटरिंग व्यवस्था, इवेंट मैनेजमेंट, सीसीटीवी सर्विलांस सिस्टम, पैकेज ड्रिंकिंग वॉटर, जनरेटर और लाइट सिस्टम के लिए टेंडर जारी किए गए हैं।