Wednesday, 30 October 2019

कभी पैसों की वजह से क्रिकेट खेलना छोड़ दिया था यह भारतीय, अब टीम इंडिया में हुई एंट्री


Third party image reference
क्रिकेट का प्रतिनिधित्व करना किसी भी क्रिकेटर का सबसे बड़ा सपना होता होगा लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट का प्रतिनिधित्व करने के लिए किसी भी क्रिकेटर को कितनी मेहनत करनी पड़ती है यह कोई और नहीं सकता। लगभग हर क्रिकेटर को आर्थिक स्थिति की समस्या का सामना करना पड़ता होगा जिसमें कुछ क्रिकेटर अपनी आर्थिक स्थिति कमजोर होने की वजह से क्रिकेट बीच में छोड़ भी देते हैं लेकिन आज हम बात करेंगे एक ऐसे क्रिकेटर के बारे में जो पैसे की कमी की वजह से 4 साल तक क्रिकेट से दूर रहा और अब वो टीम इंडिया में एंट्री कर सकता है।
6 साल की उम्र से खेलते थे क्रिकेट

Third party image reference
हम बात कर रहे हैं भारत के उभरते हुए सितारे शिवम दुबे के बारे में जो इन दिनों इंडिया ए के लिए धमाल मचाते हुए खूब चर्चा बटोर रहे हैं। अगर शिवम दुबे के क्रिकेट करियर पर नजर डालें तो शिवम दुबे ने छह साल की उम्र में क्रिकेट खेलना शुरू किया था।जब शिवम महज 6 साल के थे तभी उनके पिता ने उनको क्रिकेट की कोचिंग के लिए चंद्रकांत पंडित क्रिकेट अकादमी, अंधेरी वेस्ट, मुंबई में भर्ती करवाया। शुरुआत में शिवम के पिता डेयरी उत्पादों का व्यवसाय करते थे। कुछ समय बाद, उनके पिता ने जींस धोने का व्यवसाय शुरू किया और महाराष्ट्र के भिवंडी में एक कारखाना स्थापित किया। लेकिन, शिवम के क्रिकेट कोचिंग के कारण उनके पिता ने उस कारखाने को पट्टे पर रख दिया था।
4 साल तक क्रिकेट से रहे दूर

Third party image reference
लेकिन जब शिवम दुबे 14 साल के हुए उस दौरान उनके पिता का कारखाना बंद हो गया और शिवम दुबे ने आर्थिक संकट के कारण क्रिकेट खेलना छोड़ दिया। उसके बाद चार साल बाद उन्होंने अपने चाचा रमेश दुबे और चचेरे भाई राजीव दुबे के सहयोग से क्रिकेट खेलना शुरू किया।
घरेलू क्रिकेट में मचाया धमाल
क्रिकेट में दोबारा एंट्री के बाद शिवम दुबे ने जबरदस्त प्रदर्शन का नजारा पेश किया जिसके बदौलत वर्ष 2015-16 में, उन्होंने मुंबई में बड़ौदा के खिलाफ सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में अपना टी 20 डेब्यू किया। वर्ष 2018-19 के एक रणजी ट्रॉफी मैच में, उन्होंने बड़ौदा के खिलाफ मुंबई के लिए खेलते हुए, एक ओवर में पांच छक्के लगाए। जिसके बाद वह पूरी तरह चर्चा में आ गए और उनकी आईपीएल में एंट्री हुई और अब बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली तीन टी-20 मैचों की श्रृंखला के लिए उन्हें टीम इंडिया में शामिल किया गया है।