Sunday, 17 November 2019

आईपीएल 2020 के लिए इन 4 खिलाड़ियों को टीम में रख फ्रेंचाइजी ने की बड़ी गलती हो सकता है घाटे का सौदा

क्रिकेट जगत की हाई प्रोफाइल टी20 क्रिकेट लीग इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन की तैयारियों का एक पड़ाव खत्म हो चला है। आईपीएल के अगले साल होने वाले सीजन के लिए पिछले कई दिनों से चल रही ट्रेडिंग विंडो शुक्रवार को शाम को बंद हुआ।

ये 4 रिटेंशन हो सकते हैं सबसे खराब

जिसके बाद तस्वीर साफ हुई कि किस टीम ने किन खिलाड़ियों को अंतिम रूप से ट्रेड कर दिया है या किन-किन खिलाड़ियों को अपनी टीम के साथ अगले सीजन नहीं ले जाने की चाहत में रिलीज किया है।


तो वहीं कई ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जिनको फ्रेंचाइजी ने अपने साथ आगे ले जाने के मन से टीम में बरकरार रखा है। लेकिन आपको हम ऐसे चार सबसे खराब रिटेंशन वाले खिलाड़ी बताते हैं जो समझ से हैं परे….

केदार जाधव- चेन्नई सुपर किंग्स

आईपीएल इतिहास की सबसे सफलतम टीमों में से एक चेन्नई सुपर किंग्स ने ट्रेडिंग विंडो के तहत किसी भी खिलाड़ी को अपनी टीम का हिस्सा नहीं बनाया लेकिन अपने कुछ खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता जरूर दिखाया। तो वहीं कुछ ऐसे खिलाड़ी रहे जिनको बरकरार रखने की उम्मीद तो नहीं थी लेकिन बरकरार रखा।


इनमें से एक हैं भारत के केदार जाधव…. वैसे केदार का प्रदर्शन समय-समय पर अच्छा रहा है लेकिन इस बल्लेबाज ने पिछले सीजन में अपने प्रदर्शन से वो कमाल नहीं दिखाया जैसी उनसे उम्मीद की जा रही थी। केदार सीएसके के लिए 14 मैच खेले जिसमें केवल 169 रन की बना सके। ऐसे में उनको रिटेन करना समझ से परे है।

पवन नेगी- रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर

आईपीएल के पहले सीजन से ही बड़े नामों से भरी रही रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम को अब तक खिताब तो हाथ नहीं लगा है लेकिन खिताब जीतने की चाहत में वो अपने साथ कई ऐसे फैसले हैं जिसकी जरूरत नहीं होती है वो कर देते हैं और जो जरूरी फैसला होता है उसे नहीं कर पाते हैं।


ऐसा ही कुछ ट्रेडिंग विंडो में देखने को मिला जहां कई अच्छे खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया लेकिन ऑलराउंडर पवन नेगी को अभी भी टीम में बरकरार रखा है। पवन नेगी एक समय के भले ही मिलियन डॉलर बेबी रहे हैं लेकिन उनके प्रदर्शन में आरसीबी की टीम के लिए वो छाप नहीं दिखी है। नेगी 2019 के सीजन में 7 मैचों में केवल 3 विकेट ले सके तो बल्ले से भी दम नहीं दिखा।

मोहम्मद सिराज- रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर

आईपीएल के इतिहास में अब तक अपने पहले खिताब की तलाश ही करती जा रही विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम कई बदलाव कर चुकी है। जिसमें उन्होंने हर सीजन टीम को बदला है लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिल सकी है। इसी तरह से इस बार भी उन्होंने कई बड़े नामों को रिलीज कर दिया।


लेकिन माइक हेसन और साइमन कैटिच जैसे दो अनुभवी कोच के होने के बाद भी उन्होंने दो सीजन से अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को बरकरार रखा है। मोहम्मद सिराज पिछले दो सीजन में आरसीबी के लिए 26 मैचों में 28 विकेट ही ले सके हैं।

बासिल थाम्पी- सनराईजर्स हैदराबाद

इंडियन प्रीमियर लीग की सबसे संतुलित कही जाने वाली टीम सनराईजर्स हैदराबाद की टीम में एक से एक गेंदबाज मौजूद हैं। सनराईजर्स हैदराबाद की टीम की गेंदबाजी को आईपीएल के मौजूदा सेनारियो में सबसे मजबूत कहा जाता है क्योंकि इनके पास वेराइटी के तेज गेंदबाज मौजूद हैं।


इन गेंदबाजों की लिस्ट में युवा प्रतिभाशाली तेज गेंदबाज बासिल थाम्पी का भी नाम शामिल है। बासिल थाम्पी ने वैसे तो आईपीएल की शुरुआत गुजरात लॉयंस के लिए की थी। जो बहुत ही शानदार रहे लेकिन सनराईजर्स के लिए उनका प्रदर्शन ठीक नहीं रहा है। इसके बाद भी सनराईजर्स ने बासिल को बरकरार रख हर किसी को हैरान कर दिया है।