Thursday, 21 November 2019

क्रिकेट जगत के वह 4 विदेशी खिलाड़ी, जिनकी शक्ल बॉलीवुड अभिनेताओं से मिलती है!

आज हम आपको कुछ ऐसे विदेशी खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका चेहरा बहुत हद तक बॉलीवुड अभिनेताओं से मिलता-जुलता है।
4) लसिथ मलिंगा और ओंकार दास मानिकपुरी

Third party image reference
श्रीलंका क्रिकेट टीम के गेंदबाज लसिथ मलिंगा अपनी बॉलिंग स्टाइल के लिए विश्वभर में विख्यात हैं। इनका चेहरा भारतीय सिनेमा के एक्टर ओमकार दास मानिकपुरी से काफी मिलता है। छत्तीसगढ़ राज्य के मानिकपुरी छोटे पर्दे के एक अभिनेता है, इन्हें बॉलीवुड फिल्म पीपली लाइव में अपनी एक्टिंग के कारण पहचाना गया।
3) वसीम अकरम और चंकी पांडे

Third party image reference
सुयश पांडे जिन्हे उनके मंचीय नाम चंकी पांडे से बेहतर जाना जाता है, वह एक भारतीय फिल्म अभिनेता हैं, उन्होंने अपने तीन दशक से अधिक के लंबे करियर में 80 से अधिक फिल्मों में काम किया है। हिंदी में उनकी सबसे सफल फिल्में 1987-1992 की अवधि में आई थीं। वहीँ चंकी पांडेय का चेहरा पाकिस्तान के क्रिकेटर वसीम अकरम से काफी मेल खाता है। वह पाकिस्तानी टीम के सर्वाधिक विकेट लेने वाले बाएं हाथ के तेज गेंदबाज रह चुके हैं। अब वो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट मैचों की कमेंट्री करते हैं।
2) रवि बोपारा और नवतेज सिंह रेहल

Third party image reference
रवि बोपारा ने इंग्लैंड टीम के लिए 13 टेस्ट मुकाबले खेले हैंं। वह अपने शुरूआती दिनों में एक टॉप ऑर्डर बल्लेबाज थे, लेकिन बाद में मीडियम पेस बॉलर बन गए। दरअसल रवि बोपारा इंग्लैंड टीम में मोंटी पनेसर के बाद खेलने वाले दूसरे से सिख है। इनका चेहरा भारतीय संगीतकार नवतेज सिंह रेहल से बिल्कुल मिलता जुलता है। नवतेज सिंह रेहल बॉम्बे रॉकर्स नामक म्यूजिक ग्रुप के साथ काम करते हैं। इन्होंने कई एल्बम सॉन्ग भी बनाए हैं।
1) यूनुस खान और ऋतिक रोशन

Third party image reference
बॉलीवुड अभिनेता ऋतिक रोशन का चेहरा पाकिस्तानी टीम के पूर्व कप्तान और बल्लेबाज़ यूनुस खान से काफी मेल खाता है। ऋतिक बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर और अभिनेता राकेश रोशन के बेटे हैं। उन्होंने कई कई सुपरहिट फिल्में जैसे कृष, कृषि 3, मोहनजोदड़ो, जोधा अकबर आदि में मुख्य किरदार की भूमिका निभाई है। वहीँ मोहम्मद यूनुस खान एक क्रिकेटर और क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में पाकिस्तान की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रह चुके हैं। वह टेस्ट मैचों की मेजबानी करने वाले सभी 11 देशों में शतक बनाने वाले इतिहास के एकमात्र टेस्ट क्रिकेटर हैं।