Monday, 25 November 2019

जिन रोगों को डॉक्टर ठीक करने से मना करते हैं, उन रोगों के लिए संजीवनी बूटी है ये पौधा

आक एक बारहमासी झाड़ी है जिसका अंग्रेजी नाम मदार यह एक आयुर्वेदिक पौधा है। इसको मंदार’, आक, ‘अर्क’ और अकौआ भी कहते हैं। आक के फायदे कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने के लिए उपयोग किये जाते हैं। यह एक ऐसा चमत्‍कारिक पौधा है जिसके पत्‍ते, फल, फूल और इससे निकलने वाले दूध जैसे सभी उत्‍पादों का उपयोग विभिन्‍न प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में किया जाता है।

Google Image
आप शायद आक शब्‍द से परिचित न हों लेकिन अकऊआ शब्‍द से परिचित होगें। भारत के कुछ क्षेत्रों में इसे अकऊआ के नाम से जाना जाता है। आक के फायदे महिला बांझपन, कोलेरा, अस्‍थमा, बवासीर आदि के उपचार के लिए उपयोग किये जाते हैं। आइए जानते आक के एक जबदस्त फायदे के बारे में।

Google Image

Google Image
इसकी जड़ को कांजी के साथ पीसकर पेस्ट बना ले और हाथी पांव या अंडवृद्धि जैसे रोग से निजात पाने के लिए इस लेप को लगा सकते है। एक्सपर्ट का मानना है कि घाव के पक जाने पर इसकी पत्तियों की सतह पर सरसों का तेल लगाकर घाव वाले स्थान पर लगाने से घाव फटकर मवाद बाहर निकल जाती है और घाव सूखने लगता है।

Google Image
कांटा लग जाने पर भी आप इस पौधे के दूध को लगा सकते हैं। इससे दर्द तुरंत गायब हो जाएगा और घाव भी भरने लगेगा। बवासीर होने पर इसके पत्ते और जड़ों का धूंआ देते से बवासीर ख़त्म हो जाती है।
दोस्तों, अगर आपको हमारी जानकारी आपको पसंद आयी हो तो इसे शेयर, लाइक और हमारे चैनल को फॉलो करें।