Saturday, 16 November 2019

धोनी का ये यादगार पल कोई नहीं भूल सकता, जब धोनी ने अनहोनी को होनी किया था

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्रसिंह धोनी ने इंडियन क्रिकेट टीम को जिस उचाई पर पहुंचाया वहां आज तक कोई भी कप्तान नहीं पहुंचा पाया। धोनी ने हर फॉर्मेट में भारतीय टीम को चैंपियन बनाया इसके लिए धोनी ने अपने स्तर पर भी समय समय पर खुद को साबित किया है। धोनी ने कई बार दिखाया है कि वो वाकई दुनिया के बड़े गेम चेंजर है धोनी के करियर में वैसे तो ऐसे कई मैचों की भरमार है जब उन्होंने अनहोनी को होनी कर दिखाया इंटरनेशनल क्रिकेट से लेकर आईपीएल तक धोनी ने कई बार अनहोनी को होनी में तब्दील कर चुके हैं।

Third party image reference
त्रिकोणिया सीरीज के फाइनल में आमने सामने थे भारत और श्रीलंका। ऐसे ही एक मैच का जिक्र आज हम कर रहे हैं जब धोनी ने वो कर दिखाया जिसका होना बहुत ही मुश्किल माना जा रहा था। साल 2013 सेलकॉन मोबाइल कप के फाइनल में भारत के सामने थी श्रीलंका ये त्रिकोणिया श्रृंखला थी इस सीरीज में तीसरी टीम वेस्टइंडीज़ थी जो बाहर हो चुकी थी।भारत और श्रीलंका के बीच सीरीज का फाइनल मुकाबला खेला गया धोनी के कंधों पर आई थी मैच जिताने की जिम्मेदारी।
भारत टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था श्रीलंका की टीम 48.5 ओवरों में बल्लेबाजी कर भारत के सामने 202 रनों का लक्ष्य रखा जवाब में भारतीय टीम को शिखर धवन, रोहित शर्मा ने सधी शुरुआत दी। रोहित शर्मा ने इस मैच में 58 रन जोड़े लेकिन मिडिल ऑर्डर ने निराश किया और मैच महेंद्र सिंह धोनी के कंधों पर आ टिका।
Third party image reference
धोनी संभलकर खेलते हुए मैच को आखिरी ओवर तक ले गए जहाँ टीम इंडिया को जीत के लिए 15 रन चाहिए थे और धोनी के साथ इशांत शर्मा बल्लेबाजी कर रहे थे आखिरी ओवर में गेंद शामिल तिरंगा के हाथों में थे फाइनल मैच का आखिरी ओवर में धोनी ने पहली गेंद पर बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन बाहर जाती हुई गेंद धोनी के बल्ले से टच नहीं हो पाई और इस तरह लास्ट ओवर की पहली गेंद मिस हो गयी दबाव धोनी पर था लेकिन उन्होंने खुद पर इसको हावी नहीं होने दिया।

Third party image reference
दूसरी गेंद अब पांच गेंदों में रन चाहिए थे गेंदबाज ने एक बार फिर से वही गेंद डाली और इस बार धोनी के बल्ले पर गेंद चढ़ी और सीधा बाउंड्री लाइन के पास जा गिरी ओवर की दूसरी गेंद पर सिक्स मार कर धोनी पर से दबाव थोड़ा कम हुआ और भारत को जीत के लिए चार गेंदों में नौ रन चाहिए थे।
तीसरी गेंद पर धोनी जोरदार शॉट खेला गेंद हवा में थी ऐसा लग रहा था कि कैच हो सकता है लेकिन धोनी के बल्ले से निकली गेंद बाउंड्री के पास जाकर गिरी ओवर की तीसरी गेंद पर चौका आया। चौथी गेंद धोनी ने अनहोनी को होनी में तब्दील कर दिया ओवर की चौथी ही गेंद पर धोनी ने बोलर के सिर के ऊपर से गोली की तरह शॉट मारा इसके साथ ही भारत ने एक विकेट से मैच जीत लिया एक ओवर में 15 रन की जरूरत और माही ने तीन गेंद में खत्म कर दिया था मैच।
दोस्तो इसके बारे में आपकी क्या राय है हमें कमेंट बॉक्स में बताएं और हमारे चैनल क्रिकेट सपोर्ट को अभी तक FOLLOW नहीं किया है तो नीचे दिए गए पीले कलर के बटन पर क्लिक करके फॉलो करें धन्यवाद।