Tuesday, 3 December 2019

हैदराबाद गैंगरेपः जिससे पेट्रोल भरवाने गए दरिंदे, उसी लड़के ने दी थी पुलिस को सूचना


हैदराबाद. वेटरनरी डॉक्टर के साथ हुए वीभत्स और दर्दनाक गैंगरेप के आरोपी से जुड़ी रोज नई जानकारी सामने आ रही हैं। चारों आरोपियों को पकड़ा जा चुका है उनकी खूंखार साजिश की परतें खुल रही हैं। पर हर कोई यही सोच रहा है कि आखिर कौन था वो मसीहा जिसने पुलिस की मदद की और इन दरिंदों को पकड़वाया। ये एक मामूली लड़का है। पीड़िता का परिवार ताउम्र इस शख्स का एहसानमंद रहेगा।
खबरों के मुताबिक आरोपियों ने महिला की पंक्चर स्कूटी को ठीक करवाने के लिए मदद की पेशकश की थी। इसके बाद वह स्कूटर लेकर पेट्रोल भरवाने गए थे। आरोपी जिस पेट्रोल भरवाने गए थे वहां काम करने वाले लिंगाराम प्रवीण को उनपर शक हो गया था। 
पुलिस को दी सूचना
27 साल के प्रवीण ने पुलिस को सूचना दी और आरोपियों को पकड़ने में मदद की। जैसे ही इस घटना की खबरें मीडिया में आने लगी तभी प्रवीण ने 100 नंबर डायल कर पुलिस को बताया कि वह आरोपियों को पहचानने में उनकी मदद कर सकता है। प्रवीण ने बताया कि रात को 2 लोग प्लास्टिक की बोतल में तेल भरवाने उसके पास आए थे। उसे उनपर शक भी हो रहा था। 
आरोपियों को पहचानने में की मदद
पुलिस ने प्रवीण की बात मानी और उसे अपने साथ ले लिया। वह बताता गया पुलिस केस की तह तक जाती रही। प्रवीण की मदद से आरोपियों की शिनाख्त हुई और वो पकड़े गए। 
कुछ ऐसे रची गई साजिश
आपको बता दें कि चारों आरोपियों में से शिवा ने स्कूटर ठीक करवाने की बात कही थी। वह लाल रंग की स्कूटर लेकर गया और लौट आया। बाद में उन लोगों ने कहा कि आस-पास की सभी दुकाने बंद हो गईं हैं। ये कहकर उन चारों ने लड़की को कंबल में लपेट ट्रक में डाल लिया। वो उसे दूर ले जाकर उसके साथ दुषकर्म करते हैं, इस दौरान आरोपियों ने पीड़िता को जबरन शराब पिलाई, चीखों को रोकने के लिए उसका मुंह दबाए रखा और जब उसे होश आया तो गला घोंटकर मार दिया। इतना ही नहीं सबूत मिटाने के लिए पेट्रोल डालकर लड़की को जला दिया।