Tuesday, 3 December 2019

हैदराबाद डॉक्‍टर मर्डर: आरोपी के परिवार को झेलनी पड़ रही गांववालों की नफरत, बहन बोली- उसे मार डालो

हैदराबाद। हैदराबाद में 26 साल की डॉक्‍टर के गैंगरेप के बाद उनकी निर्दयता के साथ की गई हत्‍या से देश के हर हिस्‍से में खासी नाराजगी है। इस घटना को अंजाम देने वाले चारों आरोपी इस समय हिरासत में हैं और उन्‍हें फांसी सजा दी जाने की मांग की जा रही है। इन आरोपी में से एक आरोपी के परिवार को अब पड़ोसियों से ताने सुनने को मजबूर होना पड़ रहा है। हैदराबाद के साइबराबाद पुलिस ने शुक्रवार को चार आरोपियों 26 साल के मोहम्‍मद आरिफ, 20 साल के जोलू शिवा, 20 साल के जोलू नवीन और 20 के साल के चिंताकुंटा चिन्‍नाकेशवाउलू को पकड़ लिया। ये सभी इस समय जेल में हैं।

आरोपी नंबर दो जोलू शिवा

जोलू शिवा उसी ट्रक का क्‍लीनर है जिसका प्रयोग इस अपराध में हुआ। वह इस निर्मम हत्‍याकांड में आरोपी नंबर दो है। शिवा ही वह शख्‍स था जो पीड़‍िता के स्‍कूटर का पंचर ठीक कराने ले गया था। आपको बता दें कि इन चारों ने पीड़‍िता का स्‍कूटर साजिश के तहत पंचर किया था। जोलू शिवा के पिता जोलू राजाप्‍पा को याद है कि उन्‍हें अपने बेटे की वजह से जिंदगी में पहली बार 24 घंटे जेल में बिताने पड़े हैं। उन्‍होंने एक वेबसाइट के साथ बातचीत में कहा, 'मुझे काफी शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है। पुलिस स्‍टेशन में पुलिस वाले मुझे ताने मार रहे थे और कह रहे थे कि क्‍यों मैंने अपने बेटे को गलत रास्‍ते पर जाने दिया।'

गांव वाले काटने लगे परिवार से कन्‍नी

न केवल पुलिस बल्‍कि स्‍थानीय मीडिया की मानें तो गांव के बाकी लोग भी अब शिवा के परिवार से कन्‍नी काटने लगे हैं। पुलिस का कहना है कि जोलू ने भी कंपाउंड में डॉक्‍टर का रेप किया था। जोलू ही उसकी लाश को जलाने के पेट्रोल लेकर आया था और उसने ही पीड़‍िता के शव को आग लगाई गई थी। जोलू के पिता को कुछ डॉक्‍यूमेंट्स साइन करने के लिए पुलिस स्‍टेशन ले जाया गया था। पुलिस वालों ने उन्‍हें कहा कि एक पिता होने के नाते उन्‍हें शिवा में डर पैदा करना चाहिए था।

बेटे की वजह से झेलनी पड़ रही जिल्‍लत

राजप्‍पा से पुलिस ऑफिसर्स ने कहा परिवार वालों को उसे किसी और तरह के काम में शामिल होने के लिए कहना चाहिए था। पिता की मानें तो पुलिस वाले कई बातें उनसे कहते रहे और वह सिर झुकाकर हर बात सुनते रहे क्‍योंकि वह कुछ भी कहने की हालत में नहीं थे। परिवार की मानें तो जब से केस सामने आया है तब से ही उन्‍हें जिल्‍लत झेलने को मजबूर होना पड़ रहा है।

बेटे से परिवार ने खत्‍म किए संबंध

राजाप्‍पा ने बताया कि उन्‍होंने अपने बेटे से संबंध तोड़ लिए हैं और अब वह ट्रायल में भी नहीं जाएंगे। साथ ही परिवार ने उसे मृत मान लिया है। शिवा की बहन ने अपने भाई के लिए बस एक ही वाक्‍य में प्रतिक्रिया दी, 'उसे मार डालो।' उसने कहा कि इसके अलावा कुछ और नहीं हो सकता है और जो अपराध उसने किया है उसकी बस यही सजा है।