Monday, 27 January 2020

KL राहुल को मैन ऑफ द मैच चुने जाने पर सामने आई टीम की फूट


नई दिल्ली. न्यूजीलैंड दौरे पर टीम इंडिया ने भले ही न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 टी-20 मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त हासिल कर ली है. लेकिन इस बीच टीम इंडिया में फूट को भी उजागर कर दिया है. दरअसल, दूसरे टी-20 में 57 रन बनाने वाले केएल राहुल को मैन ऑफ द मैच चुना गया था.इसके बाद सोशल मीडिया पर बहस चली कि न्यूजीलैंड 140 रनों तक रोकने के लिए किसी बॉलर को यह अवॉर्ड मिलना चाहिए था. इसी बहस के बीच रविंद्र जडेजा के बयान ने आग में घी डालने का काम किया.
दूसरे टी-20 के दौरान महज 19 रन देकर 2 अहम विकेट चटकाने वाले रविंद्र जडेजा के पक्ष में अब पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग आए हैं. सहवाग ने साफ कहा, मैं इससे सहमत हूं कि गेंदबाज को मैन ऑफ द मैच मिलना चाहिए था. किसी टीम को 130 या 140 पर रोका जाए,तब गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है. वहीं, कार्यक्रम में ही मौजूद पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा ने कहा, मैन ऑफ द मैच के हकदार रवींद्र जडेजा ही थे. जब विरोधी टीम 132 रन ही बना पाए तो गेंदबाज को मैन ऑफ द मैच मिलना चाहिए. मैच उन्होंने ही जिताया. केएल राहुल नॉट आउट आए हैं, इसीलिए शायद केएल राहुल के हक में फैसला किया है.