Wednesday, 5 February 2020

मिडिल ओवर में खूब जमेगा रंग.. जब अय्यर और राहुल की जोड़ी मचाएगी धमाल


न्यूजीलैंड के विरुद्ध पहले वनडे मैच में भारत ने 348 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. लेकिन फिर भी भारतीय टीम इस मैच को हार गई. भले ही टीम इंडिया यह मैच हार गई हो. लेकिन इस मैच में भारतीय टीम के दो युवा बल्लेबाजों ने गजब का प्रदर्शन दिखाया. पिछले 5 सालों में चार बल्लेबाजों ने भारत के लिए नंबर चार पर बल्लेबाजी करते हुए वनडे क्रिकेट में शतक लगाया है. आखिरी बार यह कारनामा अंबाती रायडू ने किया था, जब वह 2018 में भारत के लिए नंबर चार पर बल्लेबाजी करते थे.
श्रेयस अय्यर ने हैमिल्टन वनडे में शतक लगाया तो कप्तान विराट कोहली और भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री बहुत ज्यादा खुश नजर आए. इसकी वजह थी कि भारतीय टीम काफी समय से नंबर 4 के लिए एक बेहतरीन बल्लेबाज ढूंढ रही थी जिसकी खोज समाप्त हो गई है. नंबर 4 के लिए भारत को श्रेयस अय्यर के रूप में एक बेहतरीन खिलाड़ी मिल चुका है. इस कमी की वजह से ही भारतीय टीम को विश्व कप में हार का सामना करना पड़ा था.
वर्ल्ड कप से पहले टीम मैनेजमेंट ने श्रेयस अय्यर को बहुत कम मौके दिए और उन्हें विश्वकप टीम में शामिल नहीं किया. लेकिन श्रेयस अय्यर को पिछले काफी समय से नंबर चार पर मौके दिए जा रहे हैं और वह हर बार खुद को साबित कर रहे हैं. श्रेयस अय्यर जरूरत के समय तेज गति से रन बना सकते हैं और दबाव की परिस्थिति में टिक कर खेल सकते हैं.
वहीं केएल राहुल के बारे में तो सब पहले से ही जानते हैं कि वह बहुत ही बेहतरीन तकनीक और क्षमता वाले बल्लेबाज है. केएल राहुल और श्रेयस अय्यर की जोड़ी मिडिल ऑर्डर में भारतीय टीम को काफी मजबूती प्रदान कर सकती है, जिसका नजारा हैमिल्टन वनडे में देखने को मिला.