Saturday, 8 February 2020

किसी संजीवनी बूटी से कम नहीं है ये पौधा, इसके इस्तेमाल से दूर होते हैं कई गंभीर रोग


रोजमेरी स्वाद में हल्का कड़वा होता हैं। यह हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है। इसके इस्तेमाल से बढ़ती उम्र के लक्षण कम होते हैं, दर्द से छुटकारा मिलता हैं और सूजन कम होती हैं। इसीलिए रोजमेरी के पौधे को जड़ी बूटी पौधा भी कहा जाता है। तो चलिए जानते हैं इसके इस्तेमाल से हमें क्या क्या फायदे होते हैं।
(1) रोजमेरी के पौधे में कारोनोसोल तत्व मौजूद होता है। इस तत्व में कैंसर रोधी गुण पायें जातें हैं। इसलिए रोजमेरी का सेवन करने से स्किन कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और कोलोन कैंसर का खतरा कम हो जाता है।
(2) रोजमेरी एक उत्तम दर्द निवारक भी होता हैं। इसलिए रोजाना जोड़ो और कमर की इसके तेल से मालिश करने से जोड़ों का दर्द और कमर का दर्द दूर हो जाता है।
(3) अगर आप माइग्रेन की समस्या से परेशान हैं। तो किसी बर्तन में रोजमेरी के पत्ते डालकर आग पर रखकर उसकी भाप लेने से माइग्रेन का दर्द ठीक हो जाता है।
(4) रोजमेरी में कारनोसिक नामक एक तत्व मौजूद होता हैं। यह तत्व याददाश्त को तेज करता हैं। इसके अलावा इससे दिमाग मजबूत होता हैं। और अल्‍जाइमर की समस्या भी दूर करता हैं।
(5) अगर आप पेट में अल्सर की समस्या से परेशान हैं। तो रोजमेरी का सेवन आपके लिए किसी दवाई से कम नहीं होता है। क्योंकि इसमें एंटी बैक्‍टीरियल गुण मौजूद होते है। जो पेट के अल्सर को ठीक करने में बहुत सहायक होते हैं।