Saturday, 7 March 2020

कोरोनावायरस को देखते हुए आईपीएल का आयोजन बाद में किया जाना चाहिए : महाराष्ट्र स्वास्थ्य मंत्री



महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने शनिवार को कहा कि देश भर में कोरोनावायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए इंडियन प्रीमियर लीग आईपीएल) का आयोजन बाद में किया जाएगा। टोपे ने यहां संवाददाताओं से कहा, "जब बड़ी संख्या में लोग एक जगह जमा होते हैं तो संक्रामक बीमारियों के तेजी से फैलने की आशंका रहती है। ऐसे आईपीएल) आयोजनों के लिए यह सही समय नहीं है। इसे बाद में आयोजित किया जाना चाहिए।"
टोपे ने यह भी कहा कि आईपीएल को स्थगित करने के सम्बंध में आधिकारिक तौर पर बातचीत चल रही है और जल्द ही इस बारे में कोई घोषणा की जाएगी।
महाराष्ट्र के मंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब आईपीएल के शुरू होने में एक महीने से भी कम समय रह गया है। इसका आयोजन 29 मार्च से होने वाला है और पहले मैच में वानखेड़े स्टेडियम में मौजूदा चैम्पियन मुम्बई इंडियंस का सामना चेन्नई सुपर किंग्स से होगा।
मंत्री के बयान से ठीक एक दिन पहले बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि आईपीएल का आयोजन तय तारीख पर होगा और कोरोनावायरस से निपटने के लिए हरसम्भव कदम उठाए जाएंगे।
गांगुली ने इस सम्बंधमें पूछे गए सवाल पर साफ कर दिया कि आईपीएल 'ऑन' है और बोर्ड टूर्नामेंट के सुचारू आयोजन को लेकर हर जरूरी कदम उठाने को तैयार है।
स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मिले आधिकारिक आंकडों के मुताबिक अब तक भारत में कोरोनावायरस के 30 कन्फर्म्ड मामलों की पुष्टि हो चुकी है।
बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी के हवाले से ईएसपीएन की रिपोर्ट में कहा गया है कि बोर्ड सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए कोरोनावायरस के सम्बंध में हर जरूरी कदम उठाने को तैयार है।
इस सम्बंध में सभी स्टेकहोल्डर्स, खिलाड़ियों, फ्रेंजाइजी, एअरलाइंस, टीम होटल्स, ब्राडकास्टिंग क्रू और इस लीग से जुड़े सभी पक्षों को जरूरी सावधानी और ऐहतियात बरतने के लिए सरकार के निर्देशों का पालन करने के लिए कहा जाएगा।
बोर्ड ने यह भी कहा है कि खिलाड़ियों से कहा जाएगा कि वे फैन्स से हाथ न मिलाएं और ऐसे किसी डिवाइस से पिक्चर क्लिक न करें, जो उनका न हो।
कोरोनावायरस के कारण दुनिया भर में अब तक लगभग 3 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।
इसके बढ़ते खतरे के कारण कई खेल आयोजन रद्द कर दिए गए हैं। इसे लेकर ओलंपिक के आयोजन पर भी सवालिया निशन लग गए हैं, जिसका आयोजन इस साल जुलाई-अगस्त में जापान की राजधानी टोक्यो में होना है।