Sunday, 29 March 2020

दुकानदारों ने ज‍िंदा मुर्गों को जंगल में फेंका, लूटने की मची होड़


  • जहां कोरोना वायरस पूरी दुनिया में कहर मचा रखा है तो वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस के डर से दुकानदारों ने बड़ा कदम उठाया है. साथ ही बजार से लोगों ने मुर्गे खरीदने भी बंद कर दिए हैं. इसकी वजह से कुछ दुकानदारों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है. यही नहीं दुकानदारों के पास इतने भी पैसे नहीं बचे हैं क‍ि वे मुर्गों को दाना भी खिला सकें. इसकी वजह से मजबूरी में दुकानदारों ने ऐसा कदम उठाया है जो काफी चौंकाने वाला है. अजीब तरह की यह घटना झारखंड में रामगढ़ ज‍िले की है.
  • बताया जा रहा है दुकानदारों ने सैकड़ों जिंदा मुर्गों को जंगल में फेंक दिया. वहीं, पास के इलाकों में रहने वाले लोगों को जब इस बात की जानकारी मिली तब वे सभी जंगल में पहुंच गए और उन्हें पकड़ने की होड़ मच गई. इसके बाद रास्ते से गुजरने वाले लोग मुर्गा लूटने में लग गए.
  • ये वाकया रामगढ़ और हजारीबाग सीमावर्ती क्षेत्र के बड़कागांव इलाके का है जहां कोरोनावायरस के डर से दुकानदारों ने जिंदा मुर्गों को जंगल में फेंक दिया तो वहीं लोगों में मुर्गे लूटने की होड़ मच गई.
  • गौरतलब है कि कोरोना वायरस ने विश्व के साथ साथ भारत को भी अपनी चपेट में ले लिया है. इसका सीधा असर झारखंड में देखने को मिल रहा है. हालांकि जिला प्रशासन ने 2 सप्ताह पहले ही पूरे रामगढ़ जिले में कोरोना वायरस को लेकर हाईअलर्ट जारी किया था. साथ ही जिला प्रशासन की तरफ से जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है लेकिन फिर भी लोगों में डर बना हुआ है. लोगों ने अपने घरों से भी निकलना कम कर दिया है.
  • वहीं, जिले के कई लोगों ने रेल और हवाई जहाज से दूसरी जगह जाने के लिए टिकट करवाये थे लेकिन अब कोरोनावायरस के चलते सभी ने टिकट कैंसिल करवा दिया है. खासकर जिले में चिकन और मटन बेचने वालों पर आफत आ पड़ी है. उनकी दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ ना के बराबर देखी जा रही है.
  • इस धंधे से जुड़े हुए व्यापारियों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है. ऐसे में इस धंधे से जुड़े कुछ व्यापारीयों के पास मुर्गों को दाना खिलाने के लिए भी पैसे नहीं है जिसके कारण उनको अपने मुर्गों को जंगलों में फेंकना पड़ रहा है.
  •