Tuesday, 21 April 2020

'रामायण' में इस अभिनेता ने निभाए थे तीन किरदार, मशहूर होने के बावजूद लाइमलाइट से हैं दूर


रामानंद सागर की 'रामायण' में कुछ सितारे ऐसे हैं जिन्होंने एक से ज्यादा रोल निभाए। इसमें 'सुग्रीव' और 'बाली' का किरदार निभाने वाले श्याम सुंदर के अलावा विजय कविश का भी नाम शामिल हैं। विजय ने 33 साल पहले इस मशहूर पौराणिक सीरियल में एक साथ तीन किरदार निभाए थे। खास बात ये है कि ये तीनों किरदार एक दूसरे से इतने अलग थे कि दर्शक भी जान नहीं पाए थे। आगे की स्लाइड में पढ़िए विजय कविश ने 'रामायण' में कौन कौन से किरदार निभाए।
'रामायण' में विजय कविश ने भगवान शिव, महर्षि वाल्मीकि और रावण के ससुर का किरदार निभाया था। विजय कविश 'रामायण' में भगवान शिव और रावण के ससुर के रोल में दिखे तो वहीं उत्तर रामायण में महर्षि वाल्मीकि के रूप में नजर आए। रावण के ससुर और महर्षि वाल्मीकि दोनों किरदारों में विजय का चेहरा दाढ़ी मूंछों से ढका हुआ था जिसमें उन्हें पहचान पाना इतना आसान नहीं है।
इस सीरियल में विजय कविश का महर्षि वाल्मीकि का किरदार सबसे ज्यादा अहम है। ऐसी मान्यता है कि जब राजधर्म का पालन करते हुए राम जी माता सीता का त्याग कर देते हैं तो वाल्मीकि ने ही सीता जी को अपने आश्रम में आश्रय दिया था। इसी आश्रम में ही लव कुश का जन्म हुआ था।
मुंबई में जन्मे कविश के पिता डायलॉग राइटर थे। ऐसे में इंडस्ट्री में आना उनके लिए आसान था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत दूरदर्शन पर प्रसारित सीरियल 'इधर उधर' से की थी। कविश ने रामानंद सागर के सीरियल 'विक्रम बेताल' और 'श्रीकृष्णा' में भी काम किया है। इसके अलावा उन्होंने बॉलीवुड की कई फिल्मों में भी काम किया है। कविश ने 'अरमान', 'फूल' और 'सलमा' जैसी फिल्में की हैं। फिलहाल वो लंबे समय से किसी सीरियल या फिल्म में नजर नहीं आए हैं।

रामानंद सागर की 'रामायण' के आखिरी एपिसोड के बाद 'उत्तर रामायण' का प्रसारण शुरू हो गया है। 'उत्तर रामायण' में ही लव कुश का जन्म दिखाया जाएगा। आपको बता दें, लॉकडाउन की वजह से सीरियल के आगे की शूटिंग नहीं हो पा रही जिसकी वजह से पुराने सीरियल का प्रसारण दोबारा शुरू किया गया है। इन सीरियल्स के दोबारा प्रसारण से ये सितारे फिर से लाइमलाइट में आ गए हैं।