Monday, 20 April 2020

कैंसर की जंग जीत चुके टीम इंडिया के इस खिलाड़ी ने कहा- आपको विश्वास होना चाहिए कि आप कोरोना से लड़ सकते हो


कोलकाता। भारत जब विश्व के अन्य देशों की तरह कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहा है तब चार साल पहले कैंसर का डटकर सामना करने वाले पूर्व भारतीय बल्लेबाज और बंगाल के कोच अरुण लाल का मानना है कि ऐसे समय में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना और आशावादी बने रहना जरूरी है। इस पूर्व खिलाड़ी को लार ग्रंथियों के विशेष तरह के कैंसर से ग्रस्त पाया गया था लेकिन वह इससे उबरने में सफल रहे।
अरुण लाल ने पीटीआई से कहा, ''कुल मिलाकर यह एक बीमारी है। आपको विश्वास होना चाहिए कि आप इससे लड़ सकते हो। आपके पास कोई और विकल्प नहीं है। आपको सबसे बुरे के लिये तैयार रहना होगा लेकिन सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद रखनी होगी।''
उन्होंने कहा, ''आपको अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रखनी होगी। आपको इससे लड़ना होगा। आपको सकारात्मक बने रहना होगा और खुद पर भरोसा रखना होगा। पौष्टिक खायें, अच्छी नींद लें और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रखें।''
अरुण लाल ने 15 अप्रैल से यूरोप में छुट्टियां मनाने की योजना बनाई थी, लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण वह भी अभी हर किसी की तरह अपने घर में हैं। उन्होंने कहा, ''आपको न सिर्फ अपने लिए, बल्कि अपने आसपास के हर व्यक्ति के लिए इसको रोकना होगा। मैं भी यही कर रहा हूं। मैंने खुद को अलग रखा है। इसके बारे में कोई ज्यादा नहीं जानता। आपको खुद को अलग थलग रखना होगा। अपने हाथ धोते रहना होगा। मास्क पहनना होगा। आपको सतर्क रहना होगा।''