Thursday, 21 May 2020

गरुड़ पुराण: इन 3 कारणों से घर की शांति हो सकती है भंग, पति-पत्नी में होती है तकरार


गरुड़ पुराण में बताई गई इन बातों का ध्यान नहीं रखा जाता है तो घर की शांति भंग हो सकती है और पति-पत्नी के बीच रिश्तों में दरार आ सकती है। यहां जानिए उज्जैन के भागवत कथाकार पं. मनीष शर्मा के अनुसार पति-पत्नी को घर में कौन-कौन सी बातें ध्यान रखनी चाहिए...
1. कबाड़ को करें बाहर
अगर आप चाहते हैं कि घर में शांति रहे तो सबसे पहले घर से फालतू का सामान निकालकर बाहर कर दें। बेकार पड़ी कीलें, बिना ताले की चाभियां, जंग लगा हुआ लोहा, खराब लकड़ी आदि चीजें तुरंत बाहर निकाल दें। इनकी वजह से नकारात्मकता बढ़ती है और घर की शांति दूर होती है।
2. दूषित वातावरण से बचें
बेकार सामान घर में दूषित वातावरण लाता है, जो कि घर की सुख-शांति छीन लेता है। ध्यान रहे कि घर की छत पर भी फालतू सामान नहीं होना चाहिए। घर में हमेशा सफाई रखें। सुबह जल्दी उठकर घर की सफाई करें। स्नान करें। पूजा के बाद घर में भीनी खुशबू वाली धूप-दीप जला दें। इससे घर में सकारात्मकता बढ़ती है।
3. जूठे बर्तन भिगो कर ना सोएं
ध्यान रखें कि रात के समय जूठे बर्तन और गंदे कपड़े भिगोकर न सोएं। अन्यथा आपके परिवार में एकता कभी नहीं बन पाएगी। इस गलत बात की वजह से घर में दोष बढ़ते हैं, जो कि नकारात्मकता बढ़ाते हैं।