Thursday, 21 May 2020

नए वाहन के नंबर प्लेट पर A/F क्यों लिखा होता है ?


मोटर वाहन अधिनियम 1989 के तहत नये और पुराने वाहनों का पंजीकृत होना चाहिए बिना किसी रजिस्ट्रेशन नंबर के गाड़ी चलाना गैर कानूनी माना जाता है जब भी कोई गाड़ी दुपहिया, तिपहिया या चार पहिया आदि जब शोरूम से निकलती है तो उसको एक टेम्पररी नम्बर दिया जाता है.
यदि किसी गाड़ी को टेम्पररी नम्बर नही दिया जाता है तो उसकी नम्बर प्लेट पर A/F लिखा जाता है A/F का मतलब होता है "Applied For" इसका मतलब यह है कि गाड़ी के मालिक ने गाड़ी के नए नंबर के लिए अप्लाई किया हुआ है और जब तक गाड़ी का परमानेंट नम्बर नही मिल जाता है तब तक उसको नम्बर प्लेट पर A/F या Applied For लिखने की छूट दी जाती है A/F लिखी नंबर प्लेट की गाड़ी को एक सप्ताह से अधिक तक चलाते हो तो ऐसा करना गैर कानूनी हैं .
क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय अधिकारी (RTO) द्वारा A/F लिखने की सुविधा सिर्फ उस अवधि तक के लिए दी जाती है जब तब कि आपको परमानेंट रजिस्ट्रेशन नम्बर नही मिल जाता है .
अगर रजिस्‍ट्रेशन नंबर मिलने के बाद भी आप अपनी गाडी पर A/F लिखकर चलाते हो तो ये गैर कानूनी होगा और आपके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जा सकती है यही कारण है कि गाडियों की नंबर प्‍लेट पर A/F क्‍यों लिखा जाता है  .