Wednesday, 27 May 2020

लॉकडाउन में अगर घर जाना है तो करना होगा यह काम, तुरंत मिलेगी आपको मंजूरी

 सूरत शहर और जिले में लॉकडाउन के कारण फंसे मध्यप्रदेश, राजस्थान और उड़ीसा के लोगों को अपने घर जाने के लिए जिला प्रशासन ने व्यवस्था कर दी है। जिले की सरहदों पर चार अलग-अलग जगहों पर चेक पोस्ट बनाई गयी हैं। यहां से अपने घरों को जाने वाले लोगो कों मंजूरी दी जाएगी। जिले के मांगरोल, पलसाणा, बारडोली और मांडवी तहसील में चेक पोस्ट बनाई गई हैं। इन चेकपोस्ट पर 24 घंटों तक तीन शिफ्ट में रेवेन्यू, पुलिस और स्वास्थ्य कर्मी तैनात रहेंगे।
पिछले एक महीने से ज्यादा समय से लॉकडाउन में फंसे मजदूर, छात्र और यात्रियों को अपने घर जाने के लिए अब कलक्टर या तहसीलदार कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। सीधा अपना वाहन लेकर जाना होगा। सूरत जिला की सरहद पर बनाई गई चेक पोस्ट पर वाहन, वाहन में सवार लोग और जहां जाना है उस जगह का नाम समेत पूरी डिटेल देने के बाद थर्मल स्क्रीनिंग करवा कर उनको जाने की मंजूरी दी जा रही है।
कलक्टर डॉ. धवल पटेल ने बताया कि सूरत मे फंसे मध्यप्रदेश, राजस्थान और उड़ीसा के लोगों को ही घर जाने की मंजूरी दी गई है। अहमदाबाद, सौराष्ट्र और राजस्थान की ओर जाने वाले लोगों के लिए कोसंबा के पास धामडोद चेकपोस्ट, मांखिंगा, महाराष्ट्र की ओर जाने वाले लोगों को लिए बारडोली तहसील के माणेकपोर और एमपी की ओर जाने वाले लोगों के लिए मांडवी तहसील के वाडी के पास चेकपोस्ट बनाई गई है। जांच के दौरान कोरोना के संदिग्ध लक्षण मिलने वाले लोगों को मंजूरी नहीं दी जाएगी