Wednesday, 27 May 2020

कोरोना वाली ऐसी शादी : "ऐसी शादी अपने न कभी देखी होगी, न कभी सुनी होगी, बन गई मिसाल"

 देश में लॉकडाउन होने के बाद जहां सभी सामाजिक कार्य, सरकारी या प्राइवेट संस्थानों को पूर्ण रूप से बंद करा दिया गया। तो   वहीं शादियों को लॉक डाउन के आदेशों का पालन करते हुए संपन्न कराई जा रही हैं । शादी में सोशल डिस्टेंसिंग वह मुंह पर मास्क सैनिटाइजर लगाकर सभी आदेशों का पालन किया जा रहा है। वहीं शहर के सदर कोतवाली क्षेत्र के में इसी तरीके से एक शादी समारोह संपन्न हुआ जिसमें दूल्हा व दुल्हन पक्ष के चंद लोग ही शादी में शामिल होकर शादी संपन्न कराई । तो वहीं लॉकडाउन के आदेशों का बड़ी शक्ति के साथ पालन किया गया।
लॉकडाउन के आदेशों का जहां प्रत्येक प्रदेश सरकार व प्रत्येक जनपदों के अधिकारी बड़ी शक्ति से पालन करा रहे हैं तो वहीं लॉकडाउन के दोरान शादी समारोह में भी इसका अच्छा खासा असर देखने को मिल रहा है। शादी समारोह में क्षेत्रीय अधिकारी व जिला अधिकारी का परमिशन लेकर चन्द लोग सम्मलित होकर सभी आदेशों का पालन कर रहे है। एक ऐसी ही शादी देखने को मिली जिसमें दूल्हा-दुल्हन पक्ष के लोग भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए व मुंह पर मास्क लगाकर रीति-रिवाजों को संपन्न कराया गया। सदर कोतवाली क्षेत्र के सिटी के दयानंद नगर में होने वाली जितेंद्र कुमार की बेटी स्वाति की शादी ताना निवासी सूरज पुत्र हरिराम सिंह के साथ संपन्न हुई।
दुल्हन स्वाति की बरात जिले के गांव ताना से आई है तो वहीं लोकडाउन के सभी नियमों कानून का पालन करते हुए शादी के रीति रिवाज के साथ संपन्न कराया गया। शादी के रीति रिवाज में लॉकडाउन के आदेशों का बड़ी शक्ति के साथ पालन किया गया । जिसमें शादी के समय सभी लोगों के मुंह पर मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग देखने को मिली है। वहीं इस शादी का समारोह संपन्न कराने वाले श्याम लाल पंडित जी का कहना है कि लॉकडाउन के आदेशों का पालन करते हुए शादी को संपन्न कराया गया है वहीं दूल्हे पक्ष गांव ताना से 5 लोगों की परमिशन लेकर आए थे जिसमें वह 3 लोग शादी में सम्मिलित होने आए हैं शादी में सोशल डिस्टेंस व मुंह पर मास्क लगाकर सभी रीति-रिवाजों को बड़ी शांति और हर्षोल्लास के साथ पूर्ण कराया गया है ।
जानिए दूल्हे ने क्या कहा
उधर शादी के बारे में दूल्हे का कहना है कि हम लोगों को शादी कराने के स्थल पर जाने के लिए जिलाधिकारी ने पांच लोगों की परमिशन दी थी जिसमें हम तीन लोग आए हैं मैं और मेरे पिताजी व मेरा भाई । वही शादी के दौरान लोक डाउन के सभी आदेशों का पालन किया जा रहा है । शादी में फेरे लेने के समय सोशल डिस्टेंस ओर ,मुंह पर मास्क व सैनिटाइजर कराकर शादी को संपन्न कराया गया है । लोगों के नियमों का आदेश का पालन करते हुए भी सूक्ष्म रूप में शादी का उत्सव पूरा है।
दुल्हन का ये है कहना

शादी के बारे में दुल्हन का कहना है कि मेरे घर पर बारात गांव थाना से आई है जिन्होंने जिलाधिकारी के आदेश पर 5 लोगों की परमिशन ली थी जिसमें 4 लोग आए हैं दुल्हन का कहना है कि हमें लोग डाउन का पूर्णतय है पालन किया है जिसमें सोशल डिस्टेंडिंग और मुंह पर मास्क लगाकर अपना विवाह संपन्न किया है ।