Thursday, 21 May 2020

Coronavirus Diet Tips: गिलोय खाने से बढ़ती है Immunity Power, जानें इसके अनेक फायदे


Coronavirus से लड़ने के लिए एक्सपर्ट्स बार बार इम्युनिटी स्ट्रोंग करने पर जोर दे रहे है. अगर आपको लग रहा है कि इम्यूनिटी को बढ़ाना असंभव है तो, ऐसा नहीं है. हमारी लाइफ स्टाइल और ईटिंग हैबिट्स से हमारी इम्यूनिटी कमजोर जरूर हो जाती है. लेकिन इसके बावजूद खोई इम्यूनिटी को वापस पाया जा सकता है.
आज हम आपको एक चमत्कारी पौधे के बारे में बताने जा रहे है जो हर तरह के मर्ज की दवा साबित होता है. ये चमत्कारी पौधा है गिलोय इसकी छाल, जड़, तना और पत्तों में एंटीऑक्सीडेंट्स, कैल्शियम, फॉस्फोरस, प्रोटीन और अन्य न्यूट्रिएंट्स होते हैं.
डॉक्टर्स के मुताबिक़ गिलोय से व्यक्ति की इम्यूनिटी बढ़ती है और किसी भी प्रकार के रोगों से लड़ने कि ताकत देती है. गिलोय के औषधीय गुण की वजह से इसे आयुर्वेद में अमृत वटी भी कहा जाता है.
गिलोय का ठीक तरह से प्रयोग शरीर में पैदा होने वाली वात, पित्त और कफ से होने वाली बीमारियों से छुटकारा दिला सकता है. तो चलिए इस वीडियो में आपको गिलोय के 5 फायदों के बारें में बताते है.
इम्यूनिटी बढ़ाए
किसी भी बिमारी से लड़ने के लिए इम्यूनिटी पॉवर बहुत स्ट्रोंग होनी चाहिए. इम्युनिटी पॉवर बढाने के लिए आप गिलोय के जूस का सेवन भी शुरू कर सकते हैं. गिलोय शरीर से टॉक्सिन को निकालता है.
इतना ही नहीं लिवर से जुड़ी बीमारियों से भी गिलोय के सेवन से ठीक हो जाती है. किसी व्यक्ति को लगातार सर्दी-खांसी-जुकाम की समस्या हो रही हो तो उन्हें गिलोय के रस का सेवन शुरू कर देना चाहिए.
पाचन को ठीक करता है गिलोय
गिलोय के रस का नियमित रूप से सेवन करने से आपका Digestion भी इम्प्रूव हो जाता है. गिलोय शरीर में खून के प्लेटलेट्स की गिनती को बढ़ाती है.
गिलोय के नियमित सेवन से पाचन और पेट से संबंधित किसी भी समस्या को ठीक हो जाती है. हमारा पाचन तंत्र भी ठीक रहता है. इसके लिए आपको आधा ग्राम गिलोय पाउडर को आंवले के चूर्ण के साथ नियमित रूप से सेवन करना चाहिए.
आंखों की रोशनी को बढ़ाता है गिलोय
जिनकी आंखों की रोशनी कम हो रही हो, उन्हें गिलोय के रस को आंवले के रस के साथ देने से आंखों की रोशनी भी बढ़ती है और आंख से संबंधित रोग भी दूर होते हैं. गिलोय का ठीक तरह से प्रयोग शरीर में पैदा होने वाली वात, पित्त और कफ से होने वाली बीमारियों से छुटकारा दिला सकता है। रिपोर्ट्स के अनुसार गिलोय के सेवन से कॉर्निया डिसऑर्डर और मोतियाबिंद जैसी समस्याओं को ठीक करने में मदद मिल सकती है.
डायबिटीज में फायदेमंद
जिन लोगों को डायबिटीज की बीमारी है, उन्हें गिलोय के रस का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए. डायबिटीज के मरीजों के लिए गिलोय रामबाण है. डायबिटीज के ऐसे मरीज जिन्हें टाइप-2 डायबिटीज की समस्या है, उनके लिए गिलोयका सेवन काफी फायदेमंद हो सकता है. गिलोय से ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है.
मोटापा से छुटकारा दिला सकता है गिलोय
अगर आप मोटापे से परेशान है तो गिलोय आपके लिए वरदान साबित हो सकता है. गिलोय के एक चम्मच रस में एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह-शाम लेने से मोटापा दूर हो सकता है.
लेकिन गिलोय का सेवन कैसे करना है इसके लिए अपने डॉक्टर से पहले संपर्क करें. इसके डंठल का ही प्रयोग करना चाहिए. ज्यादा मात्रा में गिलोय का सेवन न करें, अन्यथा मुंह में छाले हो सकते हैं. बाजार में आपको गिल्यो का जूस पाउडर और गोलिया मिल जाएगी.